Indian Air Force Day 2022 : जानिए 8 अक्टूबर को क्यों मनाया जाता है भारतीय वायु सेना दिवस? | भारतीय वायु सेना के कुछ रोचक तथ्य :

देश में आज मतलब 8 अक्टूबर 2022 को 90 व Indian Air Force Day 2022 (राष्ट्रीय वायु सेना दिवस) मनाया जा रहा है, भारतीय वायु सेना को 1932 में स्थापित किया गया था, इस बार 8 अक्टूबर 1922 को इंडियन एयर फोर्स का जश्न चंडीगढ़ में मनाया जाएगा। 


ऐसा पहली बार होगा, जब भारतीय वायुसेना दिवस को किसी एयर बेस से बाहर मनाया जाएगा, 2022 में 90वा राष्ट्रीय वायुसेना दिवस चंडीगढ की सबसे प्रसिद्ध लेख सुखना लेक (Sukhna lake) के आसमान में वायुसेना अपने सैनी प्रदर्शन व ताकत का नजारा आसमान में दिखाएगी।


राष्ट्रीय वायु सेना 2022 के इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुरमू जी (President of India Mrs. Draupadi Murnu) और रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Mr. Rajnath Singh) की उपस्थिति में वायु सेना दिवस मनाया जाएगा।


90th Indian Air Force Day 2022
Indian Air Force Day 2022

वीरता मेडल से नवाजे जाएंगे वायु सैनिक :

इस साल भारत 90 वा वर्षीय वायुसेना दिवस मना रहा है, राष्ट्रीय वायु सेना दिवस के इस उपलक्ष पर भारत की राष्ट्रपति साहिबा श्रीमती द्रौपदी मुर्मू और रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह की उपस्थिति में आज सुबह चंडीगढ़ में परेड का आयोजन होगा, और इस दौरान वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी.आर. चौधरी परेड की सलामी लेंगे, और वायु सैनिकों को संबोधित करेंगे। 

राष्ट्रीय वायु सेना दिवस के उपलक्ष पर वायु सैनिकों को वीरता मॉडल से भी नवाजा जाएगा और वायु सेना अध्यक्ष द्वारा एयर फोर्स की नई कॉम्बेट यूनिफॉर्म भी जारी की जाएगी।


राष्ट्रीय वायु सेना दिवस क्यों मनाया जाता है? (History of Indian Air Force in Hindi)

वायु सेना का इतिहास : भारत देश 1947 में पूर्णतः स्वतंत्र हो गया था, देश स्वतंत्र होने के पहले भारतीय वायु सेना को रॉयल इंडियन फोर्स (Royal Indian Air Force) के नाम से जाना जाता था, लेकिन सन 1947 में आजादी के बाद रॉयल इंडियन फोर्स में से रॉयल को बदलकर इंडियन एयर फोर्स कर दिया गया था।

जब हमारा देश आजाद नहीं हुआ था तब भारतीय वायु सेना आर्मी के साथ मिलकर ही अपना काम करती थी, भारत की आजादी के बाद भारतीय वायु सेना के पहले चीफ सर थॉमस डब्ल्यू एल्महर्स्ट नियुक्त हुए थे, और उनका कार्यकाल 15 अगस्त सन 1947 से लेकर 12 फरवरी 1950 तक चला था, भारतीय वायु सेना को आर्मी से अलग करने का पूरा श्रेय सर थॉमस डब्ल्यू एल्महर्स्ट को जाता है।



भारतीय वायु सेना दिवस कब मनाया जाता है?

भारतीय वायु सेना दिवस 8 अक्टूबर को मनाया जाता है, दरअसल 8 अक्टूबर को ही भारतीय वायु सेना की स्थापना की गई थी इसलिए हर साल 8 अक्टूबर की तारीख को हम सभी भारतीय 8 अक्टूबर को भारतीय वायु सेना दिवस मनाते हैं इस दिन भारतीय वायु सेना अपने स्थापना दिवस के मौके पर अपनी सैन्य शक्ति और ताकत का पूर्णतः प्रदर्शन करती है।

8 अक्टूबर 2022 को हम 90 वा राष्ट्रीय वायुसेना दिवस मनाने जा रहे हैं, इस दिवस की खास बात यह है कि ऐसा पहली बार हो रहा है जब भारतीय वायु सेना अपनी सैन्य शक्ति और वायु सेना दिवस परेड और फ्लाई पोस्ट का आयोजन दिल्ली एनसीआर से बाहर चंडीगढ़ में कर रही है, इस मौके पर वायु सेना के करीब 80 सैन्य विमान और हेलीकॉप्टर भाग लेंगे।

और राष्ट्रीय वायु सेना दिवस के इस मौके पर विमान और हेलीकॉप्टर के अलावा कई लड़ाकू हेलीकॉप्टर एल सी एच प्रचंड, एलसीए तेजस, सुखोई, मिग- 29, जगुआर, राफेल, आईएल-76, सी- 130, हॉक, ध्रुव, चिनूक, अपाचे और एमआई-17 फ्लाई पास्ट इसमें हिस्सा लेंगे।



भारतीय वायु सेना के कुछ रोचक तथ्य :

  • इंडियन एयर फोर्स ने पूमलाई, विजय, मेघदूत जैसे कई ऑपरेशन में अहम भूमिका निभाई है।
  • भारतीय वायु सेना यूनाइटेड नेशन के साथ मिलकर शांति मिशन में भी काम करता है।
  • भारतीय वायुसेना कई प्राकृतिक आपदाओं के दौरान अपनी पूरी सहन शक्ति के साथ राहत कार्यों में हिस्सा लेती है और उसमें मुख्य भूमिका निभाती है जिसमें से गुजरात का चक्रवात 1998 सुनामी 2004 उत्तर भारत में बाढ़ जैसी कई बड़ी प्राकृतिक आपदाएं शामिल है।
  • भारतीय वायु सेना ने उत्तराखंड में आई भारी बाढ़ और प्राकृतिक आपदाओं में फंसे लोगों को बचाने में विश्व रिकॉर्ड भी बनाया है, जिसमें भारतीय वायु सेना के द्वारा लगभग 20,000 से अधिक लोगों को बचाया था।

  • भारतीय वायु सेना दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायु सेना है। 
  • एशिया का सबसे बड़ा वायु स्टेशन भारतीय वायु सेना का हिंडन वायु सेना स्टेशन है जो यूपी के गाजियाबाद में स्थित है।
  • भारतीय वायु सेना को पहले रॉयल इंडियन एयर फोर्स कहां जाता था, जिसे बदलकर Indian Air Force कर दिया गया।

Leave a Comment