Nationak Digital Health Mission : Nationak Digital Health Mission क्या है? इसका फायदा | जाने पूरी खबर

Nationak Digital Health Mission : पीएम मोदी का  15 अगस्त के मौके पर बड़ा ऐलान 


पीएम मोदी ने 15 अगस्त 2020 के मौके पर लाल किले से देश को संबोधित करते हुए एक बड़े मिशन का ऐलान किया है नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन(Nationak Digital Health Mission)


Nationak Digital Health Mission क्या है? 


पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन की घोषणा कर दी है .यह मिशन स्वास्थ्य सेवाओं को डिजिटल प्लेटफॉर्म में लाने के लिए स्वास्थ्य सेवाओं में बड़ा कदम बताया जा रहा है |

Nationak Digital Health Mission की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं को डिजिटल प्लेटफार्म में लाने के लिए की है|

जैसे आधार कार्ड में एक व्यक्ति का जानकारी  पूरी तरह स्टोर रहती है | वह जो भी ऑनलाइन काम करता है या किसी गवर्नमेंट कार्य में योगदान करता है| तो उसकी सभी जानकारी आधार कार्ड में  रहती है |उसी प्रकार स्वास्थ्य सेवा में भी एक आधार कार्ड के जैसा यह डिजिटल कार्ड प्रोवाइड करवाया जाएगा | 

जिसमें व्यक्ति कब इलाज करवा रहा है किससे इलाज करवा रहा है किस दवाई का सेवन कर रहा है कौन-कौन सी दवाई किस समय पर उन्होंने मेडिकल से ली है |किस डॉक्टर ने इसकी सलाह दी है यह सभी जानकारी कुछ डिजिटल कार्ड में रख सकता है |

नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन के फायदे : (Nationak Digital Health Mission Benefits)


अगर कोई व्यक्ति किसी दूसरे देश के डॉक्टर से या कहीं भी अपना इलाज करवाता है. तो उसकी पुरानी रिपोर्ट उसने पहले क्या इलाज करवाया है ,इस सब की जानकारी की हार्ड कॉपी जांच रिपोर्ट को साथ में नहीं ले जाना होगा। डॉक्टर डिजिटल कार्ड की मदद से यूनीक आईडी के जरिया मरीज के सारे रिकॉर्ड को देख सकेगा।


Nationak Digital Health Mission  कैसे होगा लागु :

Nationak Digital Health Mission को दो भागों में विभाजित किया गया है आज कुछ चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा –

प्रथम चरण:- नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन के तहत प्रथम चरण में हेल्थ आईडी ,पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड, निजी डॉक्टर और हेल्थ फैसिलिटी रजिस्टर्ड होगी |

द्वितीय चरण :-नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन के दूसरे चरण में ई-फार्मेसी और टेलीमेडिसिन सेवा को भी शामिल किया जाएगा |


Nationak Digital Health Missionपीएम नरेंद्र मोदी द्वारा एक बड़ा ऐलान है |स्वास्थ्य विभाग को डिजिटल प्लेटफार्म में लाने के लिए बनाया गया है। इस मिशन को ऊपर दिए गए चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा। इसका सबसे बड़ा फायदा यहां है कि अगर कोई व्यक्ति किसी दूसरे देश के डॉक्टर से या कहीं भी अपना इलाज करवाता है तो उसकी पुरानी रिपोर्ट उसने पहले क्या इलाज करवाया है।  इस सब की जानकारी की हार्ड कॉपी जांच रिपोर्ट को साथ में नहीं ले जाना होगा डॉक्टर डिजिटल कार्ड की मदद से यूनीक आईडी का जरिया मरीज के सारे रिकॉर्ड को देख सकता है


नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन की क्या होगी प्रोसेस पूरी जानकारी :

Nationak Digital Health Mission कैसे काम करता है :


सबसे पहले एक बड़ा सर्वर बनाया जाएगा। जिसमें सभी डॉक्टर, हॉस्पिटल ,क्लीनिक को इससे जोड़ा जाएगा। यहां नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन पूरी तरह से एक वैकल्पिक मिशन होगा।  जिसमें व्यक्ति या डॉक्टर अपनी मर्जी से इस योजना का हिस्सा बन पाएंगे।
यदि कोई व्यक्ति या हॉस्पिटल  इस योजना में अपना योगदान देना चाहते हैं तो उन्हें एक यूनिक आईडी प्रोवाइड की जाएगी। 

Leave a Comment