Stock market : शेयर मार्केट क्या है? | शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करें?

आज पैसों की जरूरत किसे नहीं है हर जरूरतों को पूरा करने के लिए आज पैसों की जरूरत पड़ती है हम आपको इसी जरूरतों को पूरी करने के लिए शेयर मार्केट से अवगत करा रहे हैं तो आइए देखते हैं शेयर मार्केट से पैसे कैसे कमाए और उसमें इनवेस्टमेंट कैसे करें


What is share market in Hindi
Share Market


शेयर मार्केट क्या है : (“What is stock market in hindi “)

शेयर मार्केट एक ऐसा मार्केट है, जहां कंपनी के शेयर खरीदे या बेचे जाते हैं. शेयर मार्केट में बहुत से लोग पैसे कमाते हैं, तो बहुत से लोग पैसे गवाते भी हैं. अगर आप किसी शेयर मार्केट में किसी कंपनी का शेयर खरीदते हैं तो आपने जितने पैसे लगाए उसके हिसाब से आप उस कंपनी के कुछ % के शेयर के मालिक बन जाते हैं. 

जिसमें अगर आगे उस कंपनी को भविष्य में कोई मुनाफा या घाटा होता है तो उसका प्रभाव सीधे आप पर होगा, क्योंकि आपने उस कंपनी के शेयर खरीदे हैं. अगर उस कंपनी को कोई नुकसान होता है तो उसमें आपका घाटा है, और अगर कंपनी को कोई फायदा होता है तो इसमें आपका भी फायदा है।



यह तो हुई शेयर मार्केट की बात अब हम आपको बताते हैं कि शेयर्स किसे कहते हैं-

शेयर्स किसे कहते है? (“What is share in hindi”)

जब कोई कंपनी अपना निवेश बढ़ाने के लिए अपनी कंपनी के हिस्सों को बेचती है, तो उस हिस्सेदारी को शेयर्स कहते हैं. और जो भी व्यक्ति उस शेयर्स को खरीदता है तो वह उस कंपनी का हिस्सेदार बन जाता है.  अगर कंपनी प्रॉफिट में जाएगी तो शेयर खरीदने वाले को भी प्रॉफिट होगा, और अगर कम्पनी का मार्केट डाउन होगा तो शेयर खरीदने वाले को भी लॉस होगा. 

अब हम आपको बताते हैं कि शेयर्स कब खरीदना चाहिए-

शेयर्स कब खरीदे :

शेयर मार्केट में शेयर खरीदने से पहले आप इस फील्ड में पहले अच्छे से अनुभव प्राप्त करें, शेयर मार्केट कैसे कब और कौन सी कंपनी में शेयर खरीदना चाहिए? इन सभी बातों की जानकारी को अच्छे से जाने उसी के बाद शेयर्स में इन्वेस्ट करें.

शेयर मार्केट में अधिक जानकारी जरूर ले क्योकि शेयर मार्केट जोखिमों के अधीन है, कुछ कंपनी फ्रॉड भी होती है, इसलिए कंपनी के शेयर खरीदने से पहले उसके बैकग्राउंड को अच्छी तरह से चेक करें।


शेयर मार्केट में इन्वेस्ट कैसे?

शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने के लिए आपके पास सबसे पहले डीमेट अकाउंट होना चाहिए. 
आज के समय में इंटरनेट पर डीमेट अकाउंट फ्री में खोलने के लिए बहुत सरे 
अगर आप जानना चाहते है की upstox पर फ्री में डीमेट अकाउंट कैसे खोले तो यहाँ क्लिक करे. इसके आलावा आप डिमैट अकाउंट ब्रोकर के पास जाकर खोल सकते हैं.


डीमेट अकाउंट क्या होता है?

डिमैट अकाउंट हमारे बैंक अकाउंट की तरह होता है, जिस प्रकार से हम बैंक में पैसे जमा करते हैं उसी प्रकार से हमारे पास डीमेट अकाउंट होता है जिसमें हम हमारे शेयर्स के पैसे रखते हैं. डीमेट अकाउंट बनाने के लिए आपका किसी भी बैंक में सेविंग अकाउंट होना जरूरी है, और प्रूफ के लिए पैन कार्ड होना चाहिए. आप अपने बैंक में जाकर भी डीमेट अकाउंट खुलवा सकते हैं.

अब हम आपको बताते हैं कि कहां से शेयर खरीदे या बेचे-


शेयर में कहां से शेयर खरीदे या बेचे

internet पर बहुत सरे प्लेटफार्म है जहाँ से हम मोबाइल से ही स्टॉक को खरीद व बेश सकते है इसमें से एक है Upstox, अगर आप Upstox के बारे में Detail में जानना चाहते है तो यहाँ क्लिक करे. इसके आलावा इंडिया में 2 मैन स्टॉक एक्सचेंज है जहां से हम शेयर खरीद व बेच सकते हैं-


1). Bombay stock exchange (BSE)
2). National stock exchange (NSC)

हम आपको बता दें कि यहां ही शेयर खरीदे या बेचे जा सकते हैं यह ब्रोकर के स्टॉक एक्सचेंज के सदस्य होते हैं हम इनके जरिए स्टॉक एक्सचेंज में ट्रेंडिंग कर सकते हैं.

Note : हम सीधे शेयर मार्केट में जाकर शेयर खरीदे या बेच नहीं सकते.



शेयर मार्केट डाउन क्यों होता है : (“Why does the stock market go down”)

आपने देखा ही होगा की किसी कम्पनी के share price बड़ते है तो कभी share price down हो जाते है, शेयर मार्केट बहुत कारणों से डाउन होता है- 

कभी-कभी बड़ी-बड़ी विपदाएं आती रहती है जैसे कि अभी कोरोनावायरस चल रहा है जिसके कारण consumer के बर्ताव में बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है, जिससे बिजनेस को काफी नुकसान पहुंचता है. जिससे short-term की रनिंग के लिए बिजनेसमैन अपने stock को बेच देते हैं. जिससे मार्केट डाउन हो जाता है.

Global risk aversion के समय जब foreign इंडस्ट्रियल इन्वेस्टर्स के द्वारा जब stock की selling की जाती है तो इस टाइम शेयर मार्केट में काफी गिरावट आती है. 

अभी तक कोरोनावायरस का कोई परमानेंट इलाज नहीं आ पाया है, जिससे इंडस्ट्रियल लोगों को काफी नुकसान हुआ और यही चीजें होती है जिससे शेयर मार्केट में भारी गिरावट आती है


शेयर मार्केट की जरूरी बातें : (“stock market important things”)

आज मैं आपको शेयर मार्केट की कुछ ऐसी बातें बताने वाला हूं जो शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने वाले लोगों के लिए ज्यादा असरदार साबित होगी

➤स्टॉक मार्केट इतना आसान नहीं है, जितना कि है ऊपर से दिखता है इसमें इंसाइड ट्रेंडिंग होता है, इसलिए शेयर सूझबूझ व समझ से खरीदें. 

➤यदि आप केवल ट्रेंडिंग पर फोकस कर रहे हैं तो यह आपकी सबसे बड़ी गलती है. ज्यादातर ट्रेडर्स को ट्रेंडिंग नहीं आती है. वह बस दूसरे लोगों को देखकर पैसा कमाना चाहते हैं.

➤शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने से पहले आपको स्टॉक्स की पांच फंडामेंटल एनालिसिस करना आना चाहिए फाइनेंशियल टर्म को समझना आना चाहिए.

यह सभी बातें इन्वेस्टमेंट के लिए जरूरी होती है, जिस कंपनी से आप शेयर्स खरीद रहे हो उसके स्टॉक की पूर्ण जानकारी प्राप्त करें उसके बाद ही आगे निर्णय ले।


शेयर मार्केट का बढ़ना और घटना

➤शेयर मार्केट के बढ़ने और घटने को 2 तरीको  से आसानी से समझा जा सकता है.

➤अगर डिमांड बढ़ती है तो सप्लाई की कीमत में भी बढ़ोतरी होगी, और अगर सप्लाई बढ़ती है तो डिमांड से कीमत में कमी होती है.

➤यह दो तरीकों को अगर आप अच्छे से समझ लो तो आप शेयर मार्केट के बढ़ने और घटने को आसानी से समझ पाएंगे


कंपनी शेयर्स कैसे issue करती है :

पहले कंपनी से अपने शेयर्स के stock को एक्सचेंज लिस्टिंग में करवा कर IPO ( initial public offering ) लाती है और फिर अपने शेयर्स को खुद के डिसाइड रेट पर पब्लिक को issue कराती है.


शेयर्स की प्राइस कैसे बदलती है :

IPO के समय शेयर्स की कीमत कंपनी तय करती है, लेकिन IPO पूरा हो जाने के बाद शेयर मार्केट की डिमांड और सप्लाई का आधार बदलते रहता है.

Note :
म्यूचल फंड एक इनडायरेक्ट इन्वेस्टमेंट है, म्यूचल फंड एक प्रकार की संस्था या ट्रस्ट होती है जो अपने शेयर्स खुद जारी करती है, जिससे खरीद कर लोग म्यूचल फंड में इन्वेस्टमेंट करते हैं और यह जोखिमों के अधीन होती है.

Leave a Comment