what is e-Visa in hindi : e-Visaक्या है? | e-Visa के लिए कैसे apply करे?

आज हम बात करने करने वाले है इ-वीसा के बारे में‌‌‌, अगर आपने कभी विदेश में सफ़र किया है तो आपको इसके बारे में पता ही होगा की इ वीजा क्या होता है, अगर आपको नहीं पता है तो आइये जानते है की क्या होता है e-Visa?


What is E-Visa in hindi :

what is e-Visa full detail in hindi
What is e-Visa


E-Visa का अर्थ हैं इलेक्ट्रॉनिक वीजा, वीजा शब्द लैटिन भाषा के कार्टा वीजा से लिया गया है जिसका अर्थ है, “वह कागज जो देखा गया है”, विदेश में जाने के लिए आपको सरकार द्वारा Visa जारी करवाना होता है, विदेश की यात्रा के लिए वीजा अनिवार्य है यह डॉक्यूमेंट या ऑफिशियल स्टांप की तरह भी हो सकता है.

वीजा दूसरे देश से आने वाले या देश से बाहर जाने वालों के लिए परमिशन लेटर की तरह होता है, जो आने वाले व्यक्ति या यहां से जाने वाले व्यक्ति को घूमने या एक सीमित दायरे तक की परमिशन देता है.

ई-वीजा जारी कराने वाले देश वीजा के साथ-साथ कई शर्ते भी जोड़ते हैं, आमतौर पर वीजा एक व्यक्ति को देश में प्रवेश करने और वहां सीमित दिन रहने के अलावा कोई अधिकार नहीं देता, और विशेष परमिशन पाने के लिए अलग से विशेष परमिट की आवश्यकता होती है, किसी देश के वीजा के नियम अन्य देशों से संबंधों पर निर्भर करते हैं. कुछ देशों में Visa Apply करने के लिए इंटरव्यू और मेडिकल स्क्रीनिंग की जरूरत भी पड़ती है.


E-Visa Full Form in hindi :

E-visa का पूरा नाम “इलेक्ट्रॉनिक विजिटर इंटरनेशनल स्टे एडमिशन” (“Electronic Visitors international stay admission”) है.


ई-वीजा के प्रकार (Types of  E-Visa) :

ई-वीजा के बहुत से प्रकार होते हैं-

  1. e-Tourist Visa
  2. e-Business Visa
  3. e-Conference Visa
  4. e-Medical Visa
  5. e-Medical Attendent Visa



वीजा के प्रकार (Type of Visa) :  

वीजा के बहुत से प्रकार होते हैं भारत में 11 तरह के वीजा जारी किए जाते हैं जैसे टूरिस्ट बिजनेस जर्नलिस्ट बिजनेस आदि –


1). Non immigrant visa

अगर किसी व्यक्ति को कम समय के लिए विदेश जाना है, तो उसे non-immigrant वीजा ही लेना पड़ता है. उसे ही Non-Immigrant Visa कहते है

2). Immigrant visa

अगर कोई व्यक्ति किसी दूसरे देश में जाकर बसना चाहता है तो उससे immigrant visa लेना होगा, Immigrant Visa कहते है,


यह दोनों visa के बाद इन दोनों visa के अंतर्गत भी कुछ visa के प्रकार आते हैं-


 Transit visa  –

ट्रांजिट वीजा की अवधि अधिक से अधिक 5 दिन की होती है, इस वीजा में कम से कम दिन इसलिए होते हैं क्योंकि यह वीजा तब जारी किया जाता है जब किसी व्यक्ति को तीसरे देश से होकर जाना पड़ता है.
 
जैसे कि कोई व्यक्ति भारत से मंगोलिया जाता है तो उसे चीन से होते हुए जाना होगा और चीन से जाने में कम से कम 3 से 5 दिन का समय लगेगा ऐसी स्थिति में यह वीजा जारी किया जाता है.


➤ टूरिस्ट वीजा (पर्यटक वीजा) –

यह वीजा घूमने जाने के लिए प्रदान किया जाता है, इसी visa से आप अगर किसी देश में जाते हैं तो वहां सिर्फ आप घूम पाएंगे कोई भी अदर एक्टिविटी जैसे बिजनेस या कुछ और नहीं कर पाएंगे. 

निचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करके आप टूरिस्ट वीजा के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है-


➤ ऑन अराइवल वीजा (On Arrival Visa) –

ये वीसा किसी देश में एंट्री के वक्त किया जाता है, इसके लिए पहले से का होना अनिवार्य है, क्योंकि आपकी कंट्री का इमीग्रेशन डिपार्टमेंट फ्लाइट में बोर्ड करने से पहले ही उसे चेक करता है.


➤ स्टूडेंट विजा (Student Visa )-

यह वीजा विदेशी पढ़ाई करने वाले स्टूडेंट के लिए जारी किया जाता है, यदि आपको विदेश से कोई डिग्री या कोर्स करना है तो उसके लिए आपको यह वीजा जारी करना होगा.


➤ मैरिज वीजा (Marriage Visa) –

यह वीजा एक निश्चित समय के लिए जारी किया जाता है, किसी देश के लड़के को किसी देश की लड़की से शादी करना हो तो दूसरे देश का लड़का या दूसरे देश की लड़की दूसरे देश के लड़का या दूसरे देश की लड़की को अपने पास बुला सकता है, उसी के लिए यह वीजा जारी किया जाता है.


➤ कॉमन वीजा (Common Visa) –

ऐसे व्यक्ति जिन्हें एक देश के साथ-साथ अन्य देशों में भी जाना होता है, उस स्थिति में यह वीजा जारी किया जाता है. यह वीजा किसी पर्सन को एक से अधिक देशों में जाने के लिए परमिशन देता है.


➤ पार्टनर वीजा (Partner Visa) –

कोई शख्स अगर दूसरे देश से अपने पार्टनर को बुलाना चाहता है, तो उसके लिए यह partner visa जारी होगा.


➤ डिप्लोमेटिक वीजा (Diplomatic Visa) –

यह वीजा राजनायको के लिए होता है मतलब के ऐसे स्पेशल वर्ग जो सरकार का प्रतिनिधित्व कर रहे हो, जैसे राजदूत या ब्रोयोक्रेट्स या डिप्लोमेट्स या जिनके पास डिप्लोमा पासपोर्ट होता है यह वीजा उनके जारी होता है.


➤ कोर्टेजी वीजा (Cortege Visa) –

ये वीसा उन लोगों को दिया जाता है जो डिप्लोमेट कैटेगरी में नहीं आते हैं.


➤ पत्रकार वीजा (Journalist Visa) –

इस वीसा को जर्नलिस्ट न्यूज़ ऑर्गेनाइजेशन से लोग जारी करवाते हैं जो कि एक देश से दूसरे देश में ट्रैवल करते हैं.


➤ पेंशन वीजा (Pension Visa) –

इस तरह का वीजा बहुत कम देश जारी करवाते हैं, यह वीजा उन लोगों के लिए उपलब्ध है जिनका मकसद पैसा कमाना नहीं होता है. यह pension visa आस्ट्रेलिया और य्सके साथ कुछ गिने चुने देश में ही जारी किया है. 


➤ व्यापार वीजा (Business Visa) –

यह वीजा से बिजनेस करने वालों के लिए जारी किया जाता है, इसमें किसी परमानेंट जॉब वाले व्यक्ति को भी शामिल किया जा सकता है.


ई-विजा वाले देश : (e-visa countries)

भारतीय नागरिकों के लिए ई-वीजा की पेशकश करने वाले देशों की सूची देखें –

जैसे-जैसे वर्ष बीतते जा रहे हैं, ऑनलाइन वीज़ा आवेदन का उपयोग करने वाले देशों की संख्या बढ़ती जा रही है।

2018 तक, दुनिया भर के 25 देश इस प्रणाली का उपयोग कर रहे हैं- यूएसए, न्यूजीलैंड, आर्मेनिया, बहरीन, कंबोडिया, केप वर्डे, गैबॉन, जॉर्जिया, भारत, केन्या, कुवैत, मलेशिया, मोल्दोवा, म्यांमार, रवांडा, साओ टोमे और प्रिंसिपे, सिंगापुर, सेंट किट्स एंड नेविस, श्रीलंका, तुर्की, संयुक्त अरब अमीरात, युगांडा, उज्बेकिस्तान, जाम्बिया और जिम्बाब्वे।


Document Requirement To Apply For Visa :

वीजा बनवाने के लिए कुछ डॉक्यूमेंट की आवश्यकता पड़ती है जिसका वीजा बनवाना हो उसका

  • करंट पासपोर्ट और ओल्ड पासपोर्ट 
  • पासपोर्ट साइज फोटो 
  • वीजा पेमेंट रिसिप्ट
  • नियुक्ति पत्र, आदि


ई-वीजा आवेदन प्रक्रिया (E-Visa Application Process):

  • आपको दूसरे देश में जाने के लिए वीजा की जरूरत पड़ती है जिसकी एप्लीकेशन प्रोसेस इस प्रकार हैं, 
  • सबसे पहले सरकारी वीजा जारी करने वाली ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं,
  • यहां पर अप्लाई ऑनलाइन ऑप्शन पर क्लिक करें,
  • क्लिक करने पर एक आवेदन फॉर्म ओपन होगा जिसमें जानकारी भरे जैसे नाम, ईमेल एड्रेस, नागरिकता आदि और continue पर क्लिक करें,
  • अब एक न्यू पेज ओपन होगा इस न्यू पेज में बिजनेस और फैमिली से रिलेटेड जानकारी भरे और continue पर क्लिक करें.
  • अब एक और न्यू पेज ओपन होगा जिसमें आपको यह बताना होगा कि आप किस देश की यात्रा करना चाहते हो साथ ही पासपोर्ट साइज फोटो भी अपलोड करनी होंगी, 
  • इतना होने के बाद निर्धारित फीस का भुगतान करना होगा,
  • पेमेंट होने के बाद 72 से 96 घंटे के भीतर आपका वीजा जारी कर दिया जाएगा,



वीजा के फायदे (Benefits of Visa) :

ऐसे लोग जिनके पास गोल्डन वीजा होता है, उन्हें वीजा धारकों की तुलना में अधिक सुविधाएं मिलती है. गोल्डन वीजा पाने वाला व्यक्ति 3 कर्मचारी को स्पॉन्सर भी कर सकता है, इसके अलावा भी अपने कर्मचारी को रेसिडेंसी वीजा भी दिलवा सकता है, गोल्डन वीजा की अवधि 10 साल की होती है इस अवधि पूरी होने के बाद इसे रिन्यू करवाना पड़ता है, गोल्डन विजा पुर्तगाल सरकार का गोल्डन विजा प्रोग्राम है, जिसके तहत यह सारी सुविधाएं या यूं कहें कि फायदे मिलते हैं.


FAQ-

Q. भारतीय वीजा प्राप्त करने में कितना समय लगता है?

➤ भारत वीजा प्रसंस्करण में लगभग 15 से 30 दिन आवेदन में लगता है, लेकिन जटिल मामले में यहां 60 दिन का भी समय ले लेता है.


Q. क्या मुझे अमेरिका से भारत की यात्रा करने के लिए वीजा की आवश्यकता है?

➤ अमेरिकी नागरिक को भारत में प्रवेश करने और बाहर निकलने के लिए एक वैध पासपोर्ट और साथ ही भारतीय वीजा की जरूरत होती है.


Q. वीजा की जरूरत हमें कब पड़ती है

हमें वीजा की जरूरत पड़ती है, जब हमें एक दूसरे एक देश से दूसरे देश जाना होता है. यह एक डॉक्यूमेंट की तरह होता है जो हमें दूसरे देश में एक सीमित दायरे में अपना कार्य करने की परमिशन देता है.

Q. वीजा बनवाने के लिए क्या क्या चाहिए?

➤ वीजा बनवाने के लिए करंट और ओल्ड  पासपोर्ट , पासपोर्ट साइज फोटो , विजा पेमेंट रिसिप्ट , नियुक्ति पत्र लगता है.


Q. अमेरिका जाने के लिए क्या क्या करना पड़ता है?
 अमेरिकी नागरिक को भारत में प्रवेश करने और बाहर निकलने के लिए एक वैध पासपोर्ट और साथ ही भारतीय वीजा की जरूरत होती है.


Q. वीजा कितने का बनता है?
 वीजा के पैसे एक देश से दूसरे देश के संबंध के आधार पर होते हैं.


Q. वीजा का मतलब क्या होता है?

 वीजा शब्द लैटिन भाषा के कार्टा वीजा से लिया गया है, जिसका अर्थ है वह कागज जो देखा गया हो.


Q. पासपोर्ट और वीजा में क्या अंतर है?

 पासपोर्ट दूसरे देश में किसी भी व्यक्ति के लिए पहचान पत्र की तरह काम करता है, पासपोर्ट में व्यक्ति की पूरी जानकारी जैसे – नाम, पिता का नाम, डेट ऑफ बर्थ (जन्मतिथि), पता, लिंग, व्यवसाय, राष्ट्रीयता, आदि की जानकारी होती है.

जबकि वीजा किसी व्यक्ति को दूसरे देश में जाने, रहने, वहां घूमने और भी अन्य प्रकार की अनुमति देता है डॉक्यूमेंट के रूप में होता है.
Q. वीजा बनवाने में कितना खर्च आता है?

 सिंगल एंट्री विजा के लिए करीब 1600 का खर्च आता है.


Q. वीजा और पासपोर्ट कितने दिन में बन जाता है 2021.

 वीजा में वैसे तो 15 से 20 दिन का समय लगता है, लेकिन कुछ कुछ स्थितियों में वीजा बनने को 30 दिन समय लग जाता है, जबकि पासपोर्ट के आवेदन की 3 दिन में आपको अपॉइंटमेंट मिल जाती है, और अप्वाइंटमेंट प्रोसेस के 7 दिन में आपका पासपोर्ट आपके पास आ जाता है.






Leave a Comment